मिस. रामप्यारी के ब्लाग पर आपका हार्दिक स्वागत है.

Saturday, April 18, 2009

रामप्यारी के बोनस सवाल का इशारा

अंकलों, आंटियों और दीदीयों आज शाम की नमस्ते.

मुझे अचानक एक बात दिमाग मे आई कि मैं आपसे एक सवाल और पूछूं? पूछूं क्या?

अब आप कहोगे ..हां हां रामप्यारी पूछो पूछो..जरुर पूछो..

ठीक है जब आप लोग इतना फ़ोर्स से कह ही रहे हैं तो पूछ ही लेती हूं. वर्ना आप कहोगे कि ये रामप्यारी भी आजकल भाव
खाती है. पर अंकल भाव भी कोई खाने की चीज है? ही..ही..ही...

मैं तो भाव कभी खाती ही नही..हां मैं तो चाकलेट जरुर खा लेती हूं. अरे आपने भी मुझे कहां बातों मे लगा लिया?

अब बातों मे मुझे आप खुद उलझा लेते हैं और फ़िर कहेंगे की रामप्यारी बहुत बक बक करती है. मुझे क्या सवाल पूछना था?
मैं तो भूल ही गई. देखा ना..आप मुझे बीच मे मत टोका करिये ना...हां....अब याद आया सवाल है..

सवाल है...वो कौन है जो पूरी धरती को ही अपने सर पे धारण किये रहता है? मालूम है क्या आपको?

देख लिजिये...अगर मालूम हो तो यहां आकर मेरे आज सुबह के बोनस सवाल का जवाब दे दिजिये.

अच्छा अब मेरे शाम वाले इवनिंग वाक का समय हो गया..सो नाऊ रामप्यारी इज गोइंग टू वाकिंग एंड नो मोर टाकिंग..एंड
मीट यू टुमोरो विद रिजल्ट...इन फ़ुरसतिया स्टाईल...टेक द मजा एंड एंजाय द लाईफ़.

गुड नाईट...( देखा रामप्यारी क्या फ़टाफ़ट अंगरेजी मे ईंगलिश बोलती है?)

2 comments:

विवेक रस्तोगी said...

ताऊ को ३ टिप्पणी कर दी है सही उत्तर की पर वो है कि पब्लिश ही नहीं कर रहे हैं। शायद हमने सही उत्तर बता दिया है इसलिये।

बड़ा इमामबाड़ा, भूलभुलैया, लखनऊ

हें प्रभु यह तेरापंथ said...

नोट- रामप्यारी ने अपने ब्लोग पोस्ट मे जो फोटु दिखाया उसे कहते है "भूलभुलैया" (बडा इमामबाडा( भूलभुलैया)
..........................
रामप्यारी ने अपने ब्लोग के साईडबार मे जो फोटु बताऐ वो है सभी फोटु भी (बडा इमामबाडा) के ही है।
.................................
रामप्यारी ने अपने ब्लोग कि पहली पोस्ट मे छायावती बहनजी आपको तो घणा प्रणाम. किया वो एक क्लू था उत्तरप्रदेश की मुखमन्त्रीमायावती।
................
राम प्यारी कि पहली का जवाब भी लखनाऊ से है इसका पुराना नाम था "लक्षमणपुरी"

(हिंदुओं की धार्मिक मान्यता के अनुसार सात व्यक्ति ऐसे माने जाते हैं जिनकी कभी मृत्यु नही होगी. इन सप्त चिंरंजिवीयों के नाम बताईये. एक नाम गलत को हटाई )

६ लक्ष्मण वो नाम है जो हटाया जाऐगा। वो कौन है जो पूरी धरती को ही अपने सर पे धारण किये रहता है? वो है शेषनाग के अवतार बलराम यानी लक्षमण।

Followers