मिस. रामप्यारी के ब्लाग पर आपका हार्दिक स्वागत है.

Saturday, October 2, 2010

ताऊ पहेली - 94 का हिंट

हाय..दिस इज रामप्यारी. आजकल हिंट का एक ही चित्र दिया जाता है. नीचे का चित्र देखिये और जवाब दिजिये ताऊ डाट इन पर जाकर.






कृपया नोट करें :
हिंट के चित्र मे उस राज्य या शहर की तरफ़ इशारा भर होता है कि उस राज्य या शहर मे यह स्थान हो सकता है.

इस ब्लाग पर अब रामप्यारी आपको अगले शनिवार सुबह दस बजे मिलेगी.

इस पहेली अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु.अल्पना वर्मा


मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग
ताऊजी डाट काम

3 comments:

राज भाटिय़ा said...

राम प्यारी छोड इन पहेलियो को जल्दी से एक तगडा सा बिल्ला ढुढ ले ओर अपना घर बसा ले वर्ना बुढिया हो जायेगी....

निर्मला कपिला said...

वैसे रामप्यारी गलत नही कह रहे भाटिया जी अपनी भी यही सलाह है। कम से कम हमे तो ये सवाल नही सतायेंगे। शुभकामनायें

डा. अरुणा कपूर. said...

अब इस पहेली का क्या जवाब दे?....जय हो तेरी रामप्यारी!

Followers